बरेली : 7 लोगों की मौके पर मौत ! ड्राइवर को आई झपकी, एंबुलेंस के उड़े परखच्चे

उत्तर प्रदेश के बरेली में मंगलवार की सुबह एक भीषण सड़क हादसा हो गया है. एंबुलेंस और डीसीएम की जोरदार टक्कर में सात लोगों की मौत हो गई है. ये हादसा फतेहगंज पश्चिमी के दिल्ली बरेली हाइवे पर हुआ. नेशनल हाईवे पर मंगलवार सुबह दिल्ली के पहाड़गंज से मरीज लेकर पीलीभीत जा रही एंबुलेंस डिवाइडर पर चढ़कर कैंटर (मिनी ट्रक) में घुस गई. इससे मरीज समेत 7 लोगों की मौत होने की बात सामने आई है.

इस हादसे में मरने वाले सभी लोग पीलीभीत के निवासी हैं. राहगीरों की सूचना पर फतेहगंज पश्चिमी थाना पुलिस ने हादसे में गंभीर घायलों को जिला अस्पताल में इलाज को भेजा. मगर, डॉक्टर ने सभी को मृत घोषित कर दिया है. पुलिस मृतक शव की शिनाख्त करने में जुटी है. इसके साथ ही पंचनामा भरने की कवायद चल रही है. एंबुलेंस का ड्राइवर भोजीपुरा थाना क्षेत्र के रामपुरा गांव निवासी मेहंदी हसन है. बताया जाता है कि सुबह में ड्राइवर को अचानक नींद की झपकी आ गई. जिसके चलते एंबुलेंस डिवाइडर पर चढ़कर कैंटर में घुस गई. इससे हादसा हो गया. हाईवे पर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुटी है.

मृतकों में पहाड़गंज के एक ही परिवार के छह लोग हैं. इसमें मरीज के साथ ही उनके पति, तीन बेटों और ननद की भी मौत हो गई.एम्बुलेंस ड्राइवर समेत तीन लोग भोजीपुरा थाना क्षेत्र के गांवों के हैं. राहगीरों की सूचना पर फतेहगंज पुलिस मौके पर पहुची. इसके बाद सभी शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं. डीएम-एसएसपी आदि अफसर घटनास्थल पर हैं. हादसे की जांच में जुटे हैं.

दोनों वाहनों की टक्कर काफी जबरदस्त थी. इसकी आवाज सुनकर राहगीर और पास-पड़ोस के लोग मदद को पहुचे. मगर,एम्बुलेंस से सवार सभी की मौत हो चुकीं थी. इन लोगों ने तुरंत फतेहगंज पश्चिमी थाना पुलिस को हादसे की सूचना दी.पुलिस ने मृतकों के शव जिला अस्पताल मोर्चरी में भिजवाएं. यहां शव की शिनाख्त और पंचनामा भरने की कवायद चल रही है. हादसे की खबर पर डीएम शिवाकांत द्विवेदी और एसएससी रोहित सिंह सजवाण समेत प्रशासन और पुलिस के अफसर पहुंच गए हैं.मृतकों के परिजनों और रिश्तेदारों को सूचना दी गई है.इससे मृतकों के घरों में कोहराम मच गया.

बता दें कि खुर्शीद की पत्नी सगीरन (52 वर्ष) काफी समय से बीमार थीं. उनका इलाज बरेली के एक निजी मेडिकल कॉलेज में चल रहा था. मगर, तबियत में सुधार न होने पर दिल्ली स्थित एम्स हॉस्पिटल में अपॉइंटमेंट लिया था. एम्स में एडमिट के लिए सगीरन को 30 मई यानी सोमवार की डेट मिली. जिसके चलते खुर्शीद (55 वर्ष) अपनी पत्नी सगीरन को बरेली के नैनीताल रोड स्थित निजी मेडिकल कॉलेज की एम्बुलेंस से लेकर रविवार रात दिल्ली गए थे.एम्बुलेंस पर बरेली जनपद के भोजीपुरा थाना क्षेत्र के रामपुरा गांव निवासी मेहंदी खां ड्राइवर था.एम्बुलेंस में खुर्शीद का पुत्र आरिफ (24 वर्ष) और आसिफ (20 वर्ष) और तीसरा पुत्र भी था.उनकी रिश्तेदार भोजीपुरा थाना क्षेत्र के गांव परसुनगला निवासी सगीर बानो 45 वर्ष).

 

213

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *