पुरानी शराब नीति के तहत एक बार फिर दिल्ली में शराब की दुकाने खुलने जा रही है

राजधानी दिल्ली में पुरानी शराब नीति के तहत शराब की दुकानें खुलने जा रही हैं | 31 अगस्त के बाद राजधानी में एक भी निजी दुकान दिल्ली में नहीं खुलेगी| इसे देखते हुए सरकार ने पुरानी शराब नीति के तहत शराब की दुकान खोलने की कवायद तेज कर दी है| गुरुवार को सरकार की तरफ से गठित कमेटी ने इसे लेकर रिपोर्ट सरकार को सौंपी है. इस रिपोर्ट में 1 सितंबर तक 500 सरकारी दुकानें खोलने का फैसला किया गया है|

सरकार के चार निगम मिलकर करेंगे काम

ये काम सरकार के चारों निगम मिलकर करेंगे. शराब की दुकानें खोलने का फैसला शराब की किल्लत और कानून व्यवस्था को देखते हुए लिया गया है| दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम (DTTDC), दिल्ली राज्य औद्योगिक बुनियादी ढांचा विकास निगम (DSIIDC), दिल्ली उपभोक्ता सहकारी थोक स्टोर (DCCWS) और दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (DSCSC) इस महीने के अंत तक इन दुकानों को स्थापित कर देंगे|

31 दिसंबर तक 200 और दुकानें खोली जाएंगी

कमेटी की इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 31 दिसंबर तक शराब की 200 और दुकानें खोली जाएंगी| यानी शराब की कुल 700 दुकानें इस साल खोली जानी हैं. इन दुकानों में सभी निगम महंगी और ब्रांड वाली शराब को बेचने के लिए 5 प्रीमियम दुकानें भी शुरू करेंगे. इनमें से 2 दुकानें इसी महीने शुरू होंगी. बाकी बची दुकानें 31 दिसंबर तक खोली जाएंगी|

38

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *