नमाज के बाद प्रयागराज, मुरादाबाद और सहारनपुर में नमाजियों ने सड़क पर उतरकर हिंसा फैलाई

कानपुर में तीन जून को हुई हिंसा के बाद आज शुक्रवार को जुमे की पहली नमाज हुई। नमाज के बाद प्रयागराज, मुरादाबाद और सहारनपुर में नमाजियों ने सड़क पर उतरकर हिंसा फैलाई।प्रयागराज में हुए पथराव में डीएम, एसएसपी, एडीजी, आईजी घायल हुए हैं और एसपी की गाड़ी टूट गई है। सड़कों पर आगजनी की जा रही है। हालात इतने बिगड़ गए कि एडीजी को बंदूक उठानी पड़ी। अर्धसैनिक बलों के कुछ जवान भी घायल हुए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के कई शहरों में पत्थरबाजी की घटनाओं के बाद दंगाइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। पुलिस मुख्यालयों से एसीएएस होम अवनीश अवस्थी, एक्टिंग डीजीपी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। ACS होम अवनीश अवस्थी ने हर जिले के अधिकारियों से नमाज के बाद की रिपोर्ट मांगी है।

इस बार माहौल सहारनपुर से गर्म होना शुरू हुआ। यहां जुमे की नमाज के बाद अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाए गए। दहशत में आस-पास की दुकानों के शटर गिरने लगे। इस बीच यहां पथराव शुरू हो गया। सबसे ज्यादा हिंसा प्रयागराज में हुई। सिलसिलेवार तरीके से जानिए कहां क्या-क्या हुआ।
प्रयागराज में एडीजी प्रेम प्रकाश का गनर गंभीर रूप से घायल हो गया। आईजी प्रयागराज राकेश सिंह पत्थर लगने से बुरी तरह घायल हो गए। प्रयागराज के अटाला इलाके में भड़की हिंसा में हमलावरों ने देसी बमों से पुलिस पर हमला किया है। सड़क पर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की गई है और उन्हें आग के हवाले भी कर दिया है।

घरों से पुलिस पर पथराव किया गया है। पुलिस ने भी जवाब में पत्थरों को उठाकर फेंका। पथराव के दौरान DM संजय कुमार खत्री और SSP अजय कुमार को पत्थर लगा। प्रयागराज में अटाला चौराहे के पास लगातार पथराव हो रहा है। PAC की गाड़ी को आग लगाई गई।

48

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *